इन ग्रहों के बुरे प्रभाव से होते है तलाक

इन ग्रहों के बुरे प्रभाव से होते है तलाक

Astro Kavach के संस्थापक और राष्ट्रीय गौरव प्राप्त ज्योतिर्विद (Astrologer)Astro Dino के अनुसार वैवाहिक जीवन में जीवनसाथी के प्रति अगर मनमुटाव और टकराव की स्थिति हो जाए तो तलाक पर आकर ही बात खत्म होती है। इस तरह दो जिंदगियों के साथ दो परिवारों की ज़िंदगियां भी खराब होती है। Kundli मे विवाह-विच्छेदन #Divorce तलाक की इस स्थिति के लिए ग्रह #Grahdasha दशा जिम्मेदार होते हैं।
आइए जानें, Kundli मे कौन-से ग्रह के बुरे प्रभाव के कारण वैवाहिक जिंदगी में भूचाल आ जाता है और तलाक #Divorce की नौबत आ जाती है।

Astro Dino बताते है कि कुंडली दोष के कारण तलाक की परिस्थितियां वाले ग्रह शनि, सूर्य तथा राहु का सातवें भाव, सप्तमेश और शुक्र पर प्रभाव पड़ रहा हो, या सातवें व आठवें भावों पर एक साथ प्रभाव पड़ रहा हो तब ज्योतिषाचार्य #Astro Dino के अनुसार ग्रहों की शांति कराना बहुत आवश्यक है।

शनि ग्रह के कारण वैवाहिक जीवन में समस्याएं-

#LoveAstrology के अनुसार शनि Shani का संबंध विवाह के भाव से होता है, इसलिए अगर शनि कमजोर हुआ तो वैवाहिक जीवन में समस्याएं ही समस्याएं शुरू हो जाती हैं। शनि के कमजोर होने पर घरवालों से मतभेद के कारण आपके वैवाहिक जीवन की खुशहाली छिन जाती है। घर परिवार के मतभेद के कारण पति-पत्नी में झगड़ा होना शुरू हो जाता है।

उपाय-
शनि ग्रह के कमजोर होने पर वैवाहिक जीवन में समस्या उत्पन्न हो रही है तो प्रतिदिन शिवजी को जल चढ़ाएं और हर शनिवार को लोहे के बर्तन में भरकर सरसों का तेल दान करें।

मंगल ग्रह के कारण होती है घरेलू हिंसा-

मंगल ग्रह के निम्न होने पर घरेलू हिंसा तक की नौबत आ जाती है, पति-पत्नी के बीच में मारपीट की घटनाएं बढ़ जाती है, फिर समस्या तलाक पर आकर रूकती है। #Astrologer के मुताबिक शनि के कमजोर होने के कारण तलाक को लेकर कोर्ट-कचहरी तक मामला बहुत लंबा खींचता भी है।

उपाय-
मंगल ग्रह को प्रसन्न करने के लिए मंगलवार को व्रत रहना चाहिए।
इस दिन गरीबों को मीठी चीजें दान करना चाहिए। मंगलवार को लाल वस्त्र का प्रयोग नहीं करना चाहिए।
शनि की कृपा पाने के लिए शनि देव के मंत्र का 108 बार क्या अवश्य करना चाहिए।

राहु-केतु ग्रह के कारण बढ़ता है शक-

वैवाहिक जीवन का आधार एक दूसरे के प्रति त्याग और समर्पण होता है। लेकिन यही त्याग और समर्पण के बीच में शक की दीवार आ जाए तो वैवाहिक जीवन का आधार ही ढह जाता है। राहु-केतु ग्रह के कमजोर होने पर पति पत्नी के बीच में शक का दौर शुरू हो जाता है और यह तलाक का कारण भी बनता है।

उपाय-
पति- पत्नी के बीच तलाक की स्थिति बन रही हो तो राहु केतु इसके लिए जिम्मेदार होते हैं, इस ग्रह की शांति के लिए विष्णु भगवान की पूजा करें, जल में कुश डालकर स्नान करें और शनिवार को मीठी चीजें न खाएं।
इन अशुभ ग्रहों की कुंडली के अनुसार उपाय करना जरूरी होता है।

#BestAstrologer के अनुसार कुंडली में ग्रहों के अशुभ प्रभाव के कारण तलाक की संभावनाओं को  जरअंदाज नहीं किया जा सकता है। ग्रहों की महादशा के कारण कुंडली #Kundli में दोष का पता लगाकर उसका सही उपचार किया जाता है।

Horoscope मे वैवाहिक जीवन समस्या और तलाक से संबंधित समस्याओं के समाधान के लिए ज्योतिषाचार्य #AstroDino से संपर्क करें।

For more info connect us. We at a AstroKavach are best astrologer in India having more tha 15 years of experience in Astrology.

Share it!!

Leave a Reply